शाकाहारी विराट कोहली ने शेयर की ‘चिकन टिक्का’ का आनंद लेते हुए फोटो, फैन्स हुए हैरान

भारत के क्रिकेट आइकन विराट कोहली अपने खाने की जीवनशैली में किए गए बदलाव को लेकर कुछ साल पहले सुर्खियों में आए थे। इसका कारण उनका शाकाहारी बनना था। कुछ समय बाद उन्होंने यह भी बताया था कि कैसे मांसाहार को खत्म करने से उनकी शारीरिक सेहत में सुधार हुआ।

हाल ही में उनकी इंस्टाग्राम स्टोरी ने उनके प्रशंसकों को हैरान कर दिया है। विराट कोहली ने हाल ही में अपने इंस्टाग्राम हैंडल पर ‘मॉक चिकन टिक्का’ का आनंद लेते हुए एक स्टोरी शेयर की।

विराट की स्टोरी में एक प्लेट दिखाई दे रही है, इस प्लेट में एक चिकन टिक्का भी रखा हुआ है। इस स्टोरी के कैप्शन में विराट ने लिखा था, “आपने वास्तव में इस नकली चिकन टिक्का को पसंद किया है।”

उनकी इस स्टोरी को देखने के बाद उनके कई फैन्स को लगा कि विराट ने फिर से मांसाहारी जीवनशैली को अपना लिया है, हालाँकि ऐसा बिकुल नहीं है। विराट अभी भी शाकाहारी जीवनशैली को अपनाए हुए हैं और उनकी इस स्टोरी में दिख रहा चिकन टिक्का एक शाकाहारी डिश है, इसमें किसी भी प्रकार के मांस का इस्तेमाल नहीं किया जाता हैं।

शाकाहारी डिश है, मॉक चिकन टिक्का

कई लोग मॉक चिकन टिक्का का नाम सुनकर इसे मांसाहारी खाना समझ लेते हैं, हालाँकि यह एक शाकाहारी डिश है। इस डिश को कटहल, सोया प्रोटीन या टोफू, सोया और गेहूं आइसोलेट जैसी सामग्री का उपयोग किया जाता है। मॉक चिकन टिक्का विभन्न प्रोटीन के मिश्रण से बना हुआ एक ऐसा मूल व्यंजन है, जो अपने स्वाद को बरकरार रखते हुए मांस-मुक्त विकल्प प्रदान करता है।

विराट कोहली ने क्यों अपनाई शाकाहारी जीवनशैली

विराट कोहली एक ऐसे क्रिकेटर हैं, जो अपनी फिटनेस को लेकर बेहद चर्चा में रहते हैं और इसी फिटनेस को बरकरार रखने के लिए उन्होंने अपनी मांसाहारी जीवनशैली को शाकाहारी जीवनशैली से बदल लिया। एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने बताया कि 2018 में दक्षिण अफ्रीका में सेंचुरियन टेस्ट के दौरान स्वास्थ्य खराब होने के बाद उन्होंने शाकाहारी बनने का फैसला किया।

जब उन्होंने मांसाहारी जीवनशैली को अपना रखा था, तो उन्हें सर्वाइकल स्पाइन जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा था। इसके कारण उनकी उंगलियों में कंपन होने लगा और इसी कंपन के कारण उन्हें मैच के दौरान भी दिक्क्तों का सामना करना पड़ता था।

इसके अलावा मांस का सेवन करते रहने के कारण उन्हें पेट की समस्याओं और यूरिक एसिड के स्तर में वृद्धि जैसी अन्य समस्याओं से भी जूझना पड़ा था। तब उन्होंने मांसाहारी जीवनशैली को छोड़ शाकाहारी जीवनशैली को अपना लिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *