गर्लफ्रेंड से बदला लेने के लिए बना दिआ Facebook | जानिये मार्क जुकरबर्ग की कखानी

मार्क जुकरबर्ग की अद्भुत जीवनी: नमस्कार दोस्तों, स्वागत है आपका हमारे इस नए मोटिवेशनल पोस्ट में! आज हम बात करेंगे उस शख्स की, जिसने अपने जज्बे और जुनून से एक नई दुनिया बनाई। आप सभी ने फेसबुक का नाम सुना होगा, पर क्या आप जानते हैं कि इसे किसने और कैसे बनाया? चलिए जानते हैं मार्क जुकरबर्ग के बारे में, जिन्होंने एक टूटे हुए दिल से उठकर दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी फेसबुक को जन्म दिया।

मार्क जुकरबर्ग की कहानी और जीवनी: 14 मई 1984 को न्यूयॉर्क के व्हाइट प्लेंस में जन्मे मार्क जुकरबर्ग का परिवार पढ़ाई-लिखाई में काफी आगे था। उनके पिता एडवर्ड जुकरबर्ग एक डेंटिस्ट और मां कैरेन एक मनोचिकित्सक थीं। मार्क बचपन से ही पढ़ाई में तेज थे, खासकर गणित और कोडिंग में।

हार्वर्ड यूनिवर्सिटी और फेसमास्क: हार्वर्ड में अपनी पढ़ाई के दौरान, मार्क ने ‘फेसमास्क’ नामक एक वेबसाइट बनाई, जिसने यूनिवर्सिटी में तहलका मचा दिया। यह वेबसाइट छात्रों की फोटोज पर वोटिंग करने का प्लेटफॉर्म थी।

फेसबुक का जन्म और विकास: 2004 में, मार्क ने TheFacebook.com डोमेन खरीदा और इसे एक सोशल नेटवर्किंग साइट में बदल दिया। फेसबुक ने तेजी से लोकप्रियता हासिल की और हार्वर्ड से शुरू होकर दुनिया भर में फैल गया।

याहू का ऑफर और मार्क का निर्णय: जब मार्क की उम्र केवल 22 वर्ष थी, तब याहू ने उन्हें फेसबुक के लिए 1 बिलियन डॉलर का ऑफर दिया। लेकिन मार्क ने इसे ठुकरा दिया, क्योंकि उनकी नजर में फेसबुक सिर्फ पैसों का मामला नहीं था।

आज का फेसबुक और मार्क की सफलता: आज फेसबुक की कीमत 800 बिलियन डॉलर से अधिक है, और मार्क दुनिया के सबसे अमीर लोगों में से एक हैं। उनकी यह कहानी हमें बताती है कि एक विचार और संकल्प से कैसे बड़ी सफलता हासिल की जा सकती है।

दोस्तों, अगर आपको यह कहानी पसंद आई हो, तो इसे अंत तक पढ़ें और शेयर करें। मार्क जुकरबर्ग की इस प्रेरणादायक कहानी से हम सभी कुछ सीख सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *