संसद उल्लंघन के मास्टरमाइंड ललित झा ने किया दिल्ली पुलिस को सरेंडर, पांच अन्य अपराधी को भी किया गिरफ्तार

Parliament attack mastermind Lalit Jha: हाल ही में देश में एक झकझोर देने वाली घटना हुई। संसद भवन में कुछ लोगों ने दिन-दहाड़े घुसपेठ कर दी थी और धुएं की आड़ में घुसपैठियों ने वहां के सिक्योरिटी सिस्टम को भी अपने काबू में कर लिया। इस घटना के कथित मास्टरमाइंड ललित झा ने कल ही दिल्ली पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। इसके बाद दिल्ली पुलिस ने मुख्य आरोपी का बयान लेकर पांच अन्य को भी गिरफ्तार कर लिया है।

कौन है, Lalit Jha

पुलिस की जानकारी के अनुसार ललित झा बिहार का रहने वाला है। वह कोलकाता में शिक्षक के पद पर कार्यरत था। वह स्थानीय छात्रों को पढ़ाते थे। गुरुवार को, उसने दिल्ली के एक पुलिस स्टेशन में आत्मसमर्पण कर दिया। गुरुवार रात ललित झा से दो पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) और अतिरिक्त पुलिस आयुक्त सहित वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने पूछताछ की।

दिल्ली पुलिस ने बताया कि, “वह एक मास्टरमाइंड है। हमें पूरी साजिश और घटना के पीछे के मुख्य मकसद का पता लगाने के लिए उसकी हिरासत की जरूरत है। हमें यात्रा करने और उसे विभिन्न शहरों और स्थानों पर ले जाने की जरूरत है। हमें मोबाइल डिवाइस भी बरामद करने के लिए हिरासत की जरूरत है।”

मास्टरमाइंड ने स्वीकारा अपना अपराध

आत्मसमर्पण करने के बाद पुलिस आयुक्त सहित वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की पूछताछ के दौरान ललित झा में पूरी घटना के बारे में बताया। झा ने पुलिस को बताया कि वह महीनों से संसद पर हमला करने की साजिश रच रहा था। ललित झा ने जांच के दौरान अधिकारियों को बताया कि योजना के दौरान एक बड़ी बाधा संसद में प्रवेश पास प्राप्त करना था।

संसद का एंट्री पास प्राप्त करने के लिए उसने सभी से पूछा था कि पास की व्यवस्था कौन कर सकता है ताकि वे आसानी से संसद में प्रवेश कर सकें। वह लगातार समाचार चैनलों के माध्यम से चल रहे घटनाक्रम और पुलिस मूवमेंट पर नजर रख रहा था।

Also Read: अभिनेता Shreyas Talpade को पड़ा दिल का दौरा, गंभीर हालत में की गई एंजियोप्लास्टी

रिपोर्ट्स के मुताबिक, ललित झा ने संसद की सुरक्षा में सेंध लगाने की तारीख तय की थी। बुधवार को सागर शर्मा और मनोरंजन डी ने सार्वजनिक गैलरी से लोकसभा कक्ष में प्रवेश किया। उन्होंने पीले रंग का धुंआ छोड़ा और कथित तौर पर नारे लगाए, जिससे अराजकता और घबराहट पैदा हो गई और सत्र को तत्काल स्थगित करना पड़ा। पुलिस ने संसद के बाहर विरोध प्रदर्शन करने के लिए रंगीन धुएं का इस्तेमाल करने वाले नीलम आज़ाद और अमोल शिंदे को भी गिरफ्तार किया है। बाद में, ललित झा ने घटना का एक वीडियो एनजीओ संस्थापक नीलाक्ष आइच को भेजा, जिन्होंने कहा कि आरोपी संगठन का सदस्य था।

संसद सुरक्षा उल्लंघन के पीछे के मास्टरमाइंड ललित झा को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और नई दिल्ली जिला पुलिस ने ललित झा को स्पेशल सेल को सौंप दिया और फिर शुक्रवार को पटियाला हाउस कोर्ट ने सात दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया।

Lalit Jha सहित पांच अन्य अपराधी गिरफ्तार

ललित झा का बयान लेने के बाद इस घटना के अपराध में पांच अन्य आरोपियों को भी गिरफ्तार किया है। इसमें एक महिला अपराधी भी शामिल है। इन सभी आरोपियों पर आतंकवाद विरोधी कानून गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम (यूएपीए) और भारतीय दंड संहिता की धाराओं के तहत आरोप लगाए गए हैं।

दिल्ली पुलिस की छह टीमें करेंगी जाँच

रिपोर्ट्स के मुताबिक पुलिस अधिकारियों ने छह टीमें बनाई हैं जो लखनऊ, मैसूर, कर्नाटक, राजस्थान, महाराष्ट्र और हरियाणा में आरोपियों से जुड़े स्थानों पर जाएंगी और वहां पर इसकी जाँच करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *