Kerala Protest: सबरीमाला मंदिर में श्रद्धालुओं का बड़ा आक्रोश, व्यवस्था पर उठ रहा सवाल

Kerala Protest: सबरीमाला में श्रद्धालुओं के भीड़ को नियंत्रण कर पाना हो रहा है मुश्किल, स्थानीय मीडिया रिपोर्ट ने बताया कि भक्तों को मंदिर तक पहुंचाने के लिए कम से कम 18 घंटे का इंतजार करना पड़ रहा है। इस बीच उन्हें पास के वन क्षेत्र में रह कर और नदी में स्नान करके गुजारा करना पड़ रहा है।

राष्ट्रीय तमिल दैनिक समाचार दिनामलार की एक रिपोर्ट के अनुसार भक्तों को पिछले कुछ हफ्तों से जंगल में कष्ट उठाने पड़ रहे हैं। वह घंटों इंतजार करते हैं बिना यह जाने की बस कब चलेगी। रिपोर्ट में कहा गया है कि इसके बाद लोगों को पंबाई नदी में नहाने के लिए मजबूर होना पड़ता है जहां दोबारा कई घंटे तक कतार में खड़ा रहना पड़ता है दिनामलार की रिपोर्ट के अनुसार इन क्षेत्रों में लोगों के लिए कोई टेंट या किसी प्रकार की कृत्रिम छत मौजूद नहीं है।

पहाड़ी पर चढ़ने के बाद भक्तों को मरकुटम क्यू परिसर के नाम पर बने बंजर सेड में इंतजार कराया जाता है। यहां श्रद्धालुओं को कम से कम 4 घंटे इंतजार करना पड़ता है। इस प्रकार 12 से 18 घंटे तक सेड में कैदियों की तरह रहने के बाद श्रद्धालु अय्यपन के दर्शन कर पाते हैं।

मौत की खबर ने केरल सरकार की मुश्किलें बढ़ाई

बुधवार को पल्लूमेदू वन मार्ग से एक सबरीमाला तीर्थ यात्री की मौत की सूचना मिली थी।पुलिस ने कहा कि पारंपरिक वन मार्ग से मंदिर की ओर जाते समय तीर्थ यात्री गिर गया,उन्होंने बताया कि शव को अस्पताल ले जाने के लिए एक पुलिस दल भेजा गया है। इससे पहले शनिवार को सबरीमाला में 12 वर्षीय लड़की की मौत की खबर आई थी।तमिलनाडु की पद्मश्री पहाड़ी मंदिर के अप्पाचिमेडु खंड पर गिर गई थी।

ऑनलाइन मनोरमा की एक रिपोर्ट के अनुसार समूह जिसमें पद्मश्री भी शामिल थे,ने दोपहर के आसपास पहाड़ी पर चढ़ना शुरू किया था जब वह लोग अप्पाचिमेडु पहुंचे तब उनकी तबीयत बिगड़ गई,और बेहोश हो कर गिर गई। हालांकि पदम श्री को वहां के एक अस्पताल ले जाया गया लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका।रिपोर्ट में पुलिस सूत्रों के हवाले से बताया गया कि उसे पहले से दिल की बीमारी थी।

बीते दिनों अय्यपन के दर्शन के लिए पहुंचे एक बच्चे का मार्मिक वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर हो रहा है। मासूम अपने पिता से बिछड़ जाने की वजह से बेहद परेशान है। और रो रहा है,बच्चा रोते हुए हाथ जोड़कर पुलिस वालों से मदद की गुहार लगाता है। मासूम का दिल दहलाने वाला यह वीडियो और सबरीमाला में हुई श्रद्धालुओं की मौत सरकार के इंतजाम के सारे दावों की पोल खोल रही है।

आखिर किस वजह से बिगड़ रहे हैं सबरीमाला मंदिर की हालात

रिपोर्ट के मुताबिक साल दर साल सबरीमाला में श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ रही है। रिपोर्ट में कहा गया है कि बदइंतजाम की वजह ड्यूटी ऑफिसर का सही निर्देश न जारी करना है। पंप के पास श्रद्धालुओं की संख्या को नहीं रोकने के कारण स्थिति और ज्यादा बिगड़ गई है।

Also Read:- जल्द लॉन्च होगी TVS Apache RR200, जाने फीचर्स, कीमत और लॉन्च डेट के बारे में

पुलिस ने भी इस बात को स्वीकार किया है की बड़ी संख्या में श्रद्धालु मंदिर की पवित्र सीढ़ियां चढ़ते चले गए ।यहां महिला ,पुरुष और बच्चों की संख्या बढ़ने से पंप के पास भी दबाव बाद हालत बिगड़ने के बाद पुलिस ने मांग की है की भीड़ को लाइन में रखने के लिए एक अस्थाई निर्माण कराया जाए ताकि पंप के पास करीब 5000 लोगों की भीड़ को नियंत्रित किया जा सके।वहीं विपक्ष लगातार श्रद्धालुओं को हो रही असुविधा और लापरवाही के लिए सरकार पर हमलावर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *