GATE 2024: किसी भी वक्त जारी हो सकता है GATE 2024 का एडमिट कार्ड डाउनलोड करने की प्रक्रिया

GATE 2024: गेट 2024 परीक्षा का एडमिट कार्ड आज किसी भी वक्त जारी कर सकता है। एडमिट कार्ड गेट के ऑफिसियल वेबसाइट से डाउनलोड की जा सकेगी रजिस्टर्ड उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट gate2024.iisc.ac.in के माध्यम से अपना एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं।

जैसा कि हम जानते हैं यह परीक्षा भारतीय विज्ञान संस्थान बेंगलुरु द्वारा आयोजित की जाती है। कब जारी होगा गेट 24 का एडमिट कार्ड पिछले वर्ष की तरह ही गेट प्रवेश परीक्षा पत्र दोपहर तक आने की उम्मीद जताई जा रही है ऐसा कहा जा रहा है कि जल्द ही गेट हॉल टिकट डाउनलोड लिंक अपडेट करेंगे। अभ्यर्थियों को सलाह है कि एडमिट कार्ड के लिए ऑफिशल वेबसाइट पर नजर बनाए रखें ताकि कोई महत्वपूर्ण सूचना न छूटे।

गेट 2024 एडमिट कार्ड डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइटgate2024.iisc.ac.in पर जाएं|
  • उसके बाद होम पेज पर गेट 2024 एडमिट कार्ड लिंक पर जाएं।
  • अपना login डालें और सबमिट करें।
  • एडमिट कार्ड जांचें और डाउनलोड करें।
  • एक बात का जरूर ध्यान रखें कि भविष्य उपयोग के लिए एक प्रिंटआउट जरूर रख ले। गेट 2024 परीक्षा तिथि जैसा कि हम जानते हैं गेट परीक्षा 2024 3,4, 10 और 11 फरवरी 2024 को दो शिफ्टों में आयोजित की जाएगी।

पहली शिफ्ट की परीक्षा सुबह 9:30 से शुरू होकर दोपहर 12:30 बजे तक चलेगी। और दूसरी शिफ्ट की परीक्षा दोपहर 2:30 बजे से शाम 5:30 बजे तक आयोजित की जाएगी। गेट 2024 परीक्षा की अवधि 3 घंटे है। गेट 2024 एडमिट कार्ड में उम्मीदवार का नाम, रोल नंबर, परीक्षा केंद्र का पता, परीक्षा तिथि, शिफ्ट का समय आदि की जानकारी होगी।

Also Read –SBI Clerk Prelims Admit Card 2023: एसबीआई क्लर्क भर्ती प्रारंभिक परीक्षा का एडमिट कार्ड हुआ जारी, जानें डाउनलोड करने का तरीका

अन्य भर्ती प्रक्रियाओं में भी गेट स्कोर का उपयोग कर सकते हैं आपको बता दे की गेट स्कोर का उपयोग मास्टर और डॉक्टरेट प्रोग्राम में एडमिशन के लिए भी किया जा सकता है। कुछ केशों में वित्तीय सहायता के लिए भी किया जाता है। इतना ही नहीं कुछ सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम भी अपने भर्ती प्रक्रिया में गेट स्कोर का उपयोग करते हैं। क्या होती है गेट एक्जाम अगर हम बात करें इंजीनियरिंग में सबसे कठिन परीक्षा की तो गेट एग्जाम को याद किया जाता है।

GATE अलग अलग अंडरग्रेजुएट इंजीनियरिंग, टेक्नोलॉजी, साइंस, आर्किटेक्चर और ह्यूमैनिटीज सब्जेक्ट में कैंडिडेट की अंडरस्टैंडिंग का टेस्ट करता है। GATE स्कोर का इस्तेमाल मास्टर और डॉक्टरेट प्रोग्राम में एडमिशन और फाइनेंशियल असिस्टेंस के लिए किया जा सकता है। कुछ पब्लिक सेक्टर अंडरटेकिंग्स (PSU) भी अपनी भर्ती प्रक्रियाओं में GATE स्कोर का इस्तेमाल करते हैं।

Also Read –Dheeraj Sahu IT Raid: 351 करोड़ काला धन मिला कांग्रेस सांसद धीरज साहू के ठिकानों से, आयकर विभाग की कार्रवाई अभी भी जारी

इस एग्जाम का क्रेज इस कदर है कि इसे पास करने के लिए कई साइंस और टेक्निकल के विद्यार्थी कई वर्षों का अंतराल लेते हैं। यहां तक कि वह अच्छे अंक प्राप्त करने के लिए अपनी मौजूदा नौकरी तक भी छोड़ देते हैं। इस परीक्षा के जरिए मास्टर आफ इंजीनियरिंग(ME), मास्टर ऑफ़ टेक्नोलॉजी(M.TECH) ,और पीएचडी(PhD )के लिए रास्ते खुल जाते हैं।

गेट का फुल फॉर्म ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट इन इंजीनियरिंग है। परीक्षा में कुल 27 विषय होते हैं जिसे छात्र अपनी शैक्षणिक पृष्ठभूमि के अनुसार किसी एक विषय को चुन सकते हैं। इस परीक्षा में प्राप्त किए गए अंक 3 साल के लिए वैध रहते हैं। यह एग्जाम ऑनलाइन लिया जाता है। बात करें परीक्षा की पैटर्न की तो इसमें दो तरह के प्रश्न आते हैं mcq और न्यूमेरिकल बेस्ड।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *