कैंसर देखभाल में सुधार के लिए Max Healthcare ने ImmunoACT के सहयोग से दिल्ली-एनसीआर में लॉन्च की CAR-T सेल थेरेपी

Max Healthcare Introduces CAR T Cell Therapy: हाल ही में Max Healthcare ने दिल्ली-एनसीआर में स्थित एक अस्पताल में chimeric antigen receptor (CAR)-T थेरेपी शुरू करने की घोषणा की है। Stem cell transplant और Post-transplant relapse से गुजरने वाले मरीजों के लिए CAR-T सेल थेरेपी को एक ‘living drug’ कहा जा सकता है, जो कि मरीज को स्थायी लाभ प्रदान करती है।

इस थैरेपी के दौरान रोगी की औसतन दो सप्ताह तक देखभाल की जाती है और इससे उनके स्वास्थ्य की गुणवत्ता में सुधार होता है। CAR-T सेल थेरेपी की कोशिकाओं की सोर्सिंग के लिए IIT bombay-incubated कंपनी द्वारा ImmunoACT के सहयोग से की जाती है।

क्या है, CAR-T थेरेपी

मैक्स हेल्थकेयर ने हाल ही में भारत में एक नयी मेडिकल तकनीक का परिचय दिया है, जिसे “CAR-T Cell Therapy” कहा जाता है। यह तकनीक कैंसर के इलाज में एक बड़ी नई क्रांति है और इसमें स्वास्थ्य सेवाओं के क्षेत्र में एक नया मोड हो सकता है।

CAR-T थेरेपी में, रोगियों को आनुवंशिक रूप से सक्षम बनाया जाता है, ताकि वह अपनी प्रतिरक्षा कोशिकाओं को कैंसर से लड़ने में सक्षम बना सके। इसके उपचार के रूप में, एक विशिष्ट प्रकार की श्वेत रक्त कोशिकाओं को प्रयोगशाला में संशोधित किया जाता है, जिन्हें T-cells कहा जाता है, ताकि वह कैंसर कोशिकाओं को लक्षित और नष्ट कर सकें।

सीएआर टी सेल थैरेपी का इलाज कुछ दिनों का होता है, लेकिन इसके परिणाम लंबे समय तक स्थायी हो सकते हैं। इस तकनीक के द्वारा मरीजों को एक नई जीवन की उम्मीद दी जा रही है, जो कैंसर के खिलाफ लड़ते हुए एक नयी और सकारात्मक दिशा में आगे बढ़ सकते हैं।

CDSCO ने दी मंजूरी

ImmunoACT को हाल ही में बीते महीने ही भारत में रिलैप्स्ड/रिफ्रैक्टरी B-cell laymphomas और leukaemia को अपने CAR-T सेल थेरेपी उत्पाद के लिए केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन (CDSCO) के विपणन प्राधिकरण की मंजूरी मिली थी।

डॉक्टर्स ने बताया, थेरेपी का महत्व

Max Super Speciality Hospital के हेमेटो-ऑन्कोलॉजी/बोन मैरो ट्रांसप्लांट के डायरेक्टर डॉ. ईशाकौल ने इस लॉन्च के महत्व पर जोर देते हुए कहा कि, “इस अभूतपूर्व थेरेपी के माध्यम से, हम वैयक्तिकृत और प्रभावी समाधान देने की अपनी प्रतिबद्धता को मजबूत कर रहे हैं जो विकसित हो रहे हैं। स्वास्थ्य देखभाल परिदृश्य, हमारी देखभाल में रहने वाले लोगों के समग्र कल्याण और सकारात्मक परिणामों में योगदान देता है।”

इंस्टीट्यूट ऑफ कैंसर केयर के चेयरमेन डॉ. हरित चतुर्वेदी ने भी CAR-T के लॉन्च पर अपनी राय दी है। उन्होंने अपनी स्टेटमेंट देते हुए कहा है कि, “मैक्स हेल्थकेयर में सीएआर-टी सेल थेरेपी की शुरूआत उपलब्ध विकल्पों का प्रतीक है।”

ImmunoACT के निदेशकों ने बताया, CAR-T Cell therapy को एक क्रांतिकारी उत्पाद

रणनीति एवं व्यवसाय विकास, ImmunoACT के को-फाउंडर और डायरेक्टर, Shirish Arya का कहना है कि, “CAR-T Cell therapy एक क्रांतिकारी उत्पाद है, जो अब भारत में मरीजों के लिए उपलब्ध है। हमें भारत में मरीजों के लिए इस जीवन रक्षक उत्पाद को लॉन्च करने के लिए मैक्स हेल्थकेयर के साथ साझेदारी करने पर गर्व है। भारत और सीमित संसाधनों वाले देशों में मरीजों को अब जीवनरक्षक दवा किफायती कीमत पर यह उपलब्ध होगी। स्वदेशी रूप से विकसित उत्पाद देश को उन्नत cell-and-gene therapies के विश्व मानचित्र पर लाएगा।”

CAR-T Cell Therapy का मुख्य उद्देश्य

सीएआर टी सेल थैरेपी का मुख्य उद्देश्य कैंसर के खिलाफ लड़ाई में शरीर की अपनी ही प्राकृतिक प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करना है। इसमें मरीज के खून से उच्च तक प्रोटीन्स को हटाकर उसके खून में मौजूद कैंसर को क्षति पहुंचाने वाली सेल्स को नष्ट करना होता है। यह विशेष रूप से उन मामलों में उपयोगी होता है, जहां अन्य इलाज विफल रहते हैं।

मैक्स हेल्थकेयर ने इस तकनीक को लागू करके इसे भारतीय रोगियों के लिए उपलब्ध कराया है। यह सर्विका कैंसर चिकित्सा के क्षेत्र में एक महत्त्वपूर्ण कदम है जो भारतीय रोगियों को उन्हें मिलने वाले विशेषीकृत और उन्नत इलाज की सुविधा प्रदान कर सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *