Atal Bihari Vajpayee Birth Anniversary: अटल बिहारी वाजपेई की 99वीं जयंती, पीएम मोदी समेत कई नेताओं ने दी श्रद्धांजलि


Atal Bihari Vajpayee Birth Anniversary: भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई के 99 जयंती पर के मौके पर भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू तथा राज्य के मुख्यमंत्री ने भी श्रद्धांजलि अर्पित की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई को उनकी जयंती पर देश के सभी परिवार जनों की ओर से मेरा नमन। वे जीवन पर्यंत राष्ट्र निर्माण को गति देने में जुटे रहे। मां भारती के लिए उनका समर्पण और सेवा भाव अमृत काल में भी प्रेरणा स्रोत बना रहेगा|

इस मौके पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा भारत माता की महान सपूत भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेई की आज जयंती है। और इस अवसर पर अटल जी की स्मृतियों को नमन करते हुए प्रदेशवासियों की ओर से मैं उनके चरणों में विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। उन्होंने कहा कि हम सब जानते हैं कि अटल जी भारत की राजनीति के अजातशत्रु थे।

भारत को राजनीतिक अस्थिरता से उबरने के अलावा देश के अंदर राजनीति में सुचिता और पारदर्शिता का एक आदर्श प्रतिमान रखा था। अमित शाह ने अटल बिहारी वाजपेई को नमन किया और कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की जयंती पर उनका स्मरण कर उन्हें नमन करता हूं। अटल जी ने निस्वार्थ भाव से देश व समाज की सेवा की और भाजपा की स्थापना के माध्यम से देश में राष्ट्रवादी राजनीति को नई दिशा दी।

Also Read- Mai Atal Hoon Trailer: “मैं अटल हूं” ट्रेलर रिलीज, डायलॉग ने जीता लोगों का दिल

आगरा में आयोजित किए गए कार्यक्रम

आगरा का बटेश्वर वाजपेई जी की पैतृक भूमि के रूप में जानी जाती है। उनके स्मृतियों को जीवंत रखने के लिए यूपी सरकार ने कई अहम कदम उठाए हैं। इसके लिए प्रशासन की दक्षता को बढ़ाने तथा साहित्यिक क्षेत्र में अटल जी की स्मृतियों को जीवंत बनाए रखने के लिए स्कूल से विद्यालय तक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।

Also Read- Dunki Box Office Collection 4: बॉक्स ऑफिस पर संडे को चला “डंकी” का जादू, फिल्म ने की 100 करोड़ के क्लब में एंट्री

भाजपा पदाधिकारी ने अटल जी से जुड़ी यादों को साझा किया

उनकी 99 जयंती के मौके पर भाजपा के अधिकारियों ने उनसे जुड़ी कई रोचक यादों को साझा किया। उन्होंने बताया कि अटल बिहारी वाजपेई को हिमाचल से काफी लगाव था। वह हिमाचल को अपना दूसरा घर मानते थे। हिमाचल के लोग भी उनसे काफी स्नेह करते थे। जहां वहां के लोग उन्हें अपने घर का बड़े मानते थे वही बच्चे उन्हें मामा कह कर पुकारते थे।

देश को परमाणु संपन्न बनाया

अटल बिहारी वाजपेई की देश को परमाणु संपन्न बनाने में अहम योगदान था। उन्होंने 1998 में पोखरण में हुए परमाणु प्रशिक्षण में देश का नेतृत्व किया था। हालांकि अटल बिहारी परमाणु टेस्ट का श्रेय पूर्व पीएम पीवी नरसिम्हा राव को देते हैं। वह कहते हैं कि मई 1996 में जब मैं राव के बाद प्रधानमंत्री की कुर्सी संभाली तो उन्होंने मुझे बताया था कि बम तैयार है मैंने तो सिर्फ विस्फोट किया है।

कब हुआ था जन्म

अटल बिहारी वाजपेई का जन्म 25 दिसंबर 1924 को ग्वालियर में हुआ था। परंतु कर्मभूमि के रूप में उन्होंने उत्तर प्रदेश को चुना। देश की राजनीति में अटल जी ने अमिट छाप छोड़ी लेकिन राजनेता होने के साथ ही पत्रकार और कवि के रूप में भी अटल जी का महत्वपूर्ण योगदान रहा है अटल जी का जीवन संघर्षों से भरा रहा जिसे उन्होंने अपने कविताओं और विचारों में बहुत ही सुन्दर तरीके से उतारा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *