देओल परिवार के लिए बेहद खास रहा 8 दिसम्बर, Dharmendra Deol ने मनाया अपना 88 वां जन्मदिन

Dharmendra Deol: बॉलीवुड के He man धर्मेंद्र देओल ने कल अपना 88 वां जन्मदिन मनाया। सोशल मीडिया पर फैंस और सेलिब्रिटीज की लंबी फेहरिस्त रही। उनके बेटे सनी देओल ,बॉबी देओल बेटी ईशा देओल एवं परिवार के अन्य सदस्यों ने इस दिन को बनाया खास। इतना ही नहीं कुछ फैन्स उनके घर के बाहर जश्न मनाने के लिए पहुंचे जिसके साथ सुपरस्टार ने केक काट कर जश्न मनाया।

फैंस पर धर्मेंद्र ने लुटाया प्यार

धर्मेंद्र ने अपने फ्रेंड्स को जन्मदिन की बधाइयो के लिए धन्यवाद कहा। उन्होंने अपने बर्थडे पर मिली बधाई और गिफ्ट के लिए फ्रेंड्स को न सिर्फ थैंक्यू कहा बल्कि दुआएं भी दी। धर्मेंद्र का नाम बॉलीवुड के उन सुपरस्टार्स की लिस्ट में सुमार है जिन्होंने इंडस्ट्री को कई सुपरहिट फिल्में दी है।

जिनमें द बर्निंग ट्रेन, शोले, राजा रानी, बगावत धर्म और कानून और कई दूसरी फिल्मों में नजर आ चुके हैं। हाल ही में धर्मेंद्र को रॉकी और रानी की प्रेम कहानी में जलवे बिखेरते देखा गया ।लोगों को शबाना आजमी संग धर्मेंद्र के केमिस्ट्री पसंद आई।

करियर

रोल चाहे फिल्म सत्यकाम के सीधे सादे ईमानदार हीरो का हो, या फिर फिल्म शोले के एक्शन हीरो का हो चाहे फिल्म चुपके चुपके के कॉमेडियन हीरो का, सभी को सफलता पूर्वक निभा कर दिखा देने वाले धर्मेंद्र सिंह देओल अभिनय प्रतिभा के धनी कलाकार हैं।

सन् 1960 में फिल्म दिल भी तेरा हम भी तेरे से अभिनय की शुरुआत करने के बाद पूरे तीन दशकों तक धर्मेंद्र चलचित्र जगत में छाये रहे। उन्‍होंने केवल मेट्रिक तक ही शिक्षा प्राप्त की थी। स्कूल के समय से ही फिल्मों का इतना चाव था कि दिल्लगी (1949) फिल्म को 40 से भी अधिक बार देखा था।

धर्मेंद्र अक्सर क्लास में पहुँचने के बजाय सिनेमा हॉल में पहुँच जाया करते थे। वह फिल्मों में प्रवेश के पहले रेलवे में क्लर्क थे और लगभग सवा सौ रुपये की तनख्वाह पर काम करते थे। 19 साल की उम्र में ही प्रकाश कौर के साथ उनकी शादी भी हो चुकी थी और अभिलाषा थी बड़ा अफसर बनने की।

फिल्मफेयर के एक प्रतियोगिता के दौरान अर्जुन हिंगोरानी को धर्मेंद्र पसंद आ गये और हिंगोरानी जी ने अपनी फिल्म दिल भी तेरा हम भी तेरे के लिये 51 रुपये साइनिंग एमाउंट देकर उन्हें हीरो की भूमिका के लिये अनुबंधित कर लिया। पहली फिल्म में नायिका कुमकुम थीं।

Read Also:- 9वें दिन भी नहीं रुकी फिल्म की एडवांस बुकिंग, आठ दिन की कमाई 600 करोड़ के पार

पहली फिल्म से कुछ विशेष पहचान नहीं बन पाई थी इसलिये अगले कुछ साल संघर्ष के बीते। संघर्ष के दिनों में जुहू में एक छोटे से कमरे में रहते थे। फिल्म अनपढ़ (1962), बंदिनी (1963) तथा सूरत और सीरत (1963) से लोगों ने उन्हें जाना, पर स्टार बने ओ.पी. रल्हन की फिल्म फूल और पत्थर (1966) से। धर्मेंद्र ने 200 से भी अधिक फिल्मों में काम किया है, कुछ अविस्मरणीय फिल्में हैं अनुपमा, मँझली दीदी, सत्यकाम, शोले, चुपके चुपके आदि।

धर्मेंद्र के आने वाले प्रोजेक्ट्स

आखिरी बार धर्मेंद्र को करण जौहर की फिल्म रानी और रॉकी की प्रेम कहानी में देखा गया था। इसके अलावा उनके पास शाहिद कपूर और कृति सेनन की आने वाली फिल्म ‘अनटाइटल्ड’ की रोमांटिक फिल्म भी है।
वह इक्कीस नामक एक युद्ध नाटक में भी है। फिल्म में धर्मेंद्र मेगास्टार अमिताभ बच्चन के पोते अगस्त नंदा के साथ स्पेस साझा करेंगे। इक्कीस को सेकंड लेफ्टिनेंट अरुण खेत्रपाल के जीवन पर आधारित एक युद्ध ड्रामा माना जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *